allu arjun biography in hindi

allu arjun 95x65 1
allu arjun biography in hindi

अल्लू अर्जुन जीवनी Allu Arjun biography in hindi – अल्लू अर्जुन तेलुगू सिनेमा से है लेकिन आज वह किसी बॉलीवुड एक्टर से कम मशहूर नहीं है। अल्लू अर्जुन की ज्यादातर फिल्में सुपरहिट रही है जिससे पता चलता है जो कि उनके बहुत चाहने वाले हैं। उन्हें ना सिर्फ दक्षिण भारत में बल्कि हिंदी ऑडियो से भी बहुत प्यार मिलता आया है। इसीलिए उनकी हर फिल्म हिंदी में भी डब जरूर की जाती है जिसे हर बार हिंदी फैंस बहुत अच्छा रिस्पांस देते हैं। अल्लू अर्जुन समय- समय पर अपना लुक चेंज करते रहते हैं और उनका हर लुक फैंस को बहुत पसंद आता है इसीलिए उन्हें “स्टाइलिश स्टार” भी बोला जाता है।

अल्लू अर्जुन का जन्म 8 अप्रैल 1983 को मद्रास तमिलनाडु में एक मशहूर फिल्म प्रड्यूसर “अल्लू अरविंद” के घर में हुआ। अल्लू अर्जुन के पापा प्रड्यूसर है जिन्होंने गजनी, मगधीरा और जलसा जैसी कई मशहूर फिल्में प्रोड्यूस की है। उनकी मां एक ग्रहणी है जिनका नाम “निर्मला” है। इनके अलावा अर्जुन के दादाजी “अल्लू राम लिगीया” भी एक एक्टर रहे, जिन्होंने 1000 से भी ज्यादा साउथ इंडियन फिल्मों में काम किया और उन्हें 1990 में “पदम श्री” अवार्ड से भी सम्मानित किया गया। अल्लू अर्जुन के अलावा उनके दो भाई और हैं जिनमें एक बिजनेसमैन हैं और दूसरे एक्टर हैं जिनका नाम अल्लू सिरीश है। अल्लू सिरीश भी कई फिल्मों में लीड रोल में नजर आ चुके हैं। इन लोगों के अलावा कई साउथ इंडियन एक्टर, उनके परिवार का हिस्सा है जिनमें मेगास्टार चिरंजीवी, पवन कल्याण, नागेंद्र बाबू और रामचरण शामिल है। उनके परिवार में आज भी लगभग एक दर्जन लोग फिल्मों में काम करते हैं।

अर्जुन ने अपनी पढ़ाई चेन्नई के एक स्कूल “सेंट पैट्रिक” से की और उसके बाद उन्होंने “एमएसआर कॉलेज” हैदराबाद से बीबीए किया है। आलू अर्जुन को बचपन में एनिमेशन का बहुत शौक था और वह एनिमेटर ही बनना चाहते थे। परंतु जैसे-जैसे वह बड़े होते गए, उनका रुझान एनिमेशन से खत्म होकर एक्टिंग में आता गया। अल्लू अर्जुन कहते हैं कि फिल्म से जुड़े परिवार में जन्म होने की वजह से हमेशा उनके आसपास फिल्मी माहौल ही रहा। वह यह भी कहते हैं कि अगर मैं किसी और जगह अपना करियर बना भी लेता, तो मैं बाद में फिल्म प्रोडक्शन या फिल्म से जुड़े किसी भी बिजनेस में आ ही जाता। अल्लू अर्जुन अपने स्कूल में पढ़ाई में टॉपर ना होकर, हमेशा डांस करने में टॉपर रहे और स्कूल में उन्होंने कई प्रतियोगिता जीती। अल्लू अर्जुन को डांस का बचपन से ही बहुत शौक था इसीलिए वह आज भी इतने अच्छे डांसर हैं। अल्लू अर्जुन ने कभी डांस की कोई ट्रेनिंग क्लास नहीं ली। वह शुरू से अपने पसंदीदा डांसर्स को देखकर डांस सीखते आए हैं। अर्जुन माइकल जैक्सन और गोविंदा के डांस के बहुत बड़े फैन हैं और उन्होंने गोविंदा की तारीफ करते हुए कहा था कि गोविंदा जैसे हाव- भाव आज भी कोई डांसर नहीं दे पाता।

अल्लू अर्जुन को बचपन में अभिनय में रुचि नहीं थी। जब वह सिर्फ दो या ढाई साल के थे तभी उनके एक्टिंग करियर की शुरुआत हो गई थी। साल 1985 मे फिल्म विजेता में, अर्जुन को एक “चाइल्ड आर्टिस्ट” के तौर पर लिया गया था। इसके बाद अल्लू अर्जुन 2001 में “डैडी” फिल्म में एक डांसर के तौर पर नजर आए थे जहां उन्होंने अपने डांस स्टेप से सभी को प्रभावित कर दिया। 2002 मे अल्लू अर्जुन पढ़ाई के लिए कनाडा जाने वाले थे पर डायरेक्टर “के राघवेंद्र राव” ने उन्हें एक फिल्म ऑफर की, जो कि “के राघवेंद्र” की डायरेक्टर के तौर पर 100 वी फिल्म थी। अपनी 100 वी फिल्म के लिए राघवेंद्र ने अल्लू अर्जुन को चुना, तो यह अल्लू अर्जुन के लिए बहुत सम्मान की बात थी। उन्होंने कनाडा जाना कैंसिल करके उस फिल्म में काम करना बेहतर समझा।

यह अल्लू अर्जुन की 2003 में “गंगोत्री” फिल्म आई थी, जिसमें अर्जुन ने एक गांव के लड़के का रोल निभाया था। अर्जुन हमेशा ही गांव के रहन-सहन से दूर शहर की हाई सोसाइटी में रहे थे, इसीलिए उनके लिए यह रोल बहुत चैलेंजिंग था परंतु इस फिल्म में अर्जुन ने जो अभिनय किया, ऐसा कभी लगा ही नहीं कि वह गांव के रहने वाले नहीं हैं। ऑडियंस को उनकी एक्टिंग काफी पसंद आई और फिल्म भी बॉक्स ऑफिस पर सफल रही। उनकी एक्टिंग की वजह से ही उन्हें फिल्म फेयर साउथ अवार्ड में “बेस्ट डेब्यू मेल अवार्ड” से सम्मानित किया गया।

पहले लीड रोल में कमाल के अभिनय की वजह से उन्हें उनकी अगली फिल्म “आर्य” भी जल्दी मिल गई। अल्लू अर्जुन की फिल्म भी बहुत कामयाब रही और आर्य फिल्म ने उनको बहुत मशहूर कर दिया। फिल्म की कामयाबी का अंदाजा इसी बात से लगता हैं कि टीवी पर आने के बाद भी फिल्म थिएटर में चलती रही और कई सिनेमाघरों में तो यह फिल्म रिलीज होने के बाद 400 दिनों तक डटी रही। इस फिल्म का बजट4 करोड़ था पर इस फिल्म ने लगभग 35 करोड़ का बिजनेस किया, जो उस वक्त की फिल्में नहीं कर पाती थी। यह फिल्म अल्लू अर्जुन के करियर के लिए टर्निंग प्वाइंट रही थी। इस फिल्म के डायरेक्टर सुकुमार के लिए अल्लू अर्जुन पहली पसंद नहीं थे। वह इस फिल्म में रवि तेजा या प्रवास को कास्ट करना चाहते थे। परंतु उन दोनों ने ही यह फिल्म करने से मना कर दिया था जिसके बाद उन्होंने अल्लू अर्जुन को यह फिल्म ऑफर की, जो अल्लू अर्जुन को बहुत पसंद आई थी। यह फिल्म हिट होने के बाद आगे चलकर इसका सीक्वल भी बनाया गया और वह सीक्वल भी सुपरहिट रहा।

इसके बाद साल 2005 में लीड एक्टर के तौर पर उनकी तीसरी फिल्म “बनी” आई थी यह फिल्म भी सुपरहिट रही जिसने अल्लू अर्जुन की फैन फॉलोइंग पूरे देश में कर दी। और इस फिल्म से अल्लू अर्जुन को एक निकनेम “बनी” दिया गया । इस फिल्म में उनके कैरेक्टर का नाम “बनी” था और उसमें भी, उनके घर वाले उन्हें “बनी” ही बोलते हैं तो इस फिल्म के बाद भी उन्हें बनी बोलने लगे। इसके बाद अल्लू अर्जुन ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। अल्लू अर्जुन ने 20 साल के करियर में ज्यादातर सुपरहिट फिल्म दी है जिनमें उनकी सबसे ज्यादा कामयाब रही है हैप्पी शंकर दादा ज़िंदाबाद आर्य, आर्य टू, बनी, बद्रीनाथ, सन ऑफ सत्यमूर्ति, येवडू सराइनोडु अला वैकुंठपुरमलो आदि

साल 2008 में अल्लू अर्जुन की एक फिल्म आई थी “प्ररूभु” वो इस फिल्म में उन्होंने एक मिडिल क्लास लड़के का रोल प्ले किया था। इस रोल के लिए अर्जुन ने अपना वजन कम किया था और एक शॉर्ट हेयर स्टाइल भी किया था। उनका इस फिल्म का लुक, उनकी सभी फिल्मों से अलग था। रिलीज होने के बाद फिल्म को मिले-जुले रिव्यूज मिले थे लेकिन फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट रही और फिल्म में अर्जुन की शानदार एक्टिंग के लिए उन्हें फिल्मफेयर अवार्ड में “बेस्ट एक्टर” के अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया।

अल्लू अर्जुन की एक बड़ी हिट फिल्म “सराइनोडु” 2016 में आई थी। इस फिल्म ने 125 करोड़ से भी ज्यादा का बिजनेस किया। साल 2011 में अर्जुन की “बद्रीनाथ” फिल्म आई थी जिस फिल्म में वह पहली बार एक वॉरियर्स में देखे गए थे और वॉरियर्स रोल की तैयारी के लिए अल्लू अर्जुन ने मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग भी ली थी।

साल 2020 में अल्लू अर्जुन की सबसे बड़ी सुपरहिट फिल्म “अला वैकुंठापुरामुलो” आई। इस फिल्म ने 262 करोड़ का बिजनेस किया था। यह फिल्म “बाहुबली” फिल्म के बाद सबसे ज्यादा कमाई करने वाली तेलुगू फिल्म रही। इस फिल्म को हिंदी सिनेमाघरों में रिलीज नहीं किया गया था, वरना यह और ज्यादा कलेक्शन कर सकती थी। इस फिल्म को साइन करने से पहले अल्लू अर्जुन “सोनू की टीटू की स्वीटी” फिल्म का तेलुगू रिमेक बनाने पर काम कर रहे थे। इसी बीच उन्हें अला वैकुंठापुरामुलो फिल्म ऑफर हुई। इस फिल्म की कहानी उन्हें ज्यादा अच्छी लगी, इसीलिए सोनू के टीटू की स्वीटी फिल्म बनाने का आईडिया कैंसिल हो गया। हालांकि अल्लू अर्जुन को सोनू की टीटू की स्वीटी फिल्म बहुत पसंद आई थी।

साल 2021 में अल्लू अर्जुन की एक फिल्म “पुष्पा” आई थी । यह मूवी अल्लू अर्जुन के कैरियर की सबसे बड़ी मूवी साबित हुई । पुष्पा फिल्म के लिए मेकर्स की पहली पसंद महेश बाबू थे। डायरेक्टर के साथ क्रिएटिव डिफरेंस के चलते उन्होंने यह ऑफर रिजेक्ट कर दिया। इसके बाद अर्जुन को यह रोल ऑफर किया गया तो उन्हें यह रोल बहुत पसंद आया। इस मूवी में अर्जुन एक नए अवतार में नजर आए है।

साल 2010 में अल्लू अर्जुन की एक फिल्म “वेदाम” आई थी। आलू अर्जुन ने इस फिल्म में काम करने के लिए एक भी रुपया फीस चार्ज नहीं किया था। अल्लू अर्जुन के अलावा इस फिल्म में अनुष्का शेट्टी और मनोज बाजपाई भी थे। अल्लू अर्जुन फिल्मी बैकग्राउंड से थे और उन्होंने अपने करियर में जितनी भी फिल्म की लगभग वह सभी फिल्में सुपरहिट रही। इससे यह साबित होता है कि वह बहुत टैलेंटेड है और जो भी उन्होंने पाया है वह अपनी मेहनत और टैलेंट से ही पाया है। एक्टिंग के अलावा अल्लू अर्जुन एक बिजनेसमैन भी है उन्होंने कंपनी में निवेश किया हुआ है। उनका एक होटल है और वह एक नाइट क्लब के मालिक भी हैं। इसके साथ ही उनके कुछ और बिजनेस भी है।

अल्लू अर्जुन की पत्नी का नाम “स्नेहा रेड्डी” है। अल्लू अर्जुन और स्नेहा की पहली मुलाकात, दोनों के ही एक कॉमन फ्रेंड की शादी में हुई। अर्जुन ने जब वहां स्नेहा को देखा, तो उन्हें पहली नजर में ही स्नेहा से प्यार हो गया।
इसके बाद 6 मार्च 2011 को दोनों परिवारों के सहयोग से, स्नेहा रेड्डी और अल्लू अर्जुन हमेशा के लिए शादी के पवित्र बंधन में बंध गए। आज स्नेहा और अर्जुन के दो प्यारे से बच्चे भी हैं जिनमें एक बेटा और बेटी है।

अल्लू अर्जुन हर साल फॉर्ब्स की सेलिब्रिटी लिस्ट में छाए रहते हैं। उनके फेसबुक पर 20 मिलियन से ज्यादा फॉलोअर हैं जो किसी भी साउथ इंडियन एक्टर के नहीं है। अर्जुन को हिंदी ऑडियंस से भी बहुत प्यार और प्रसिद्धि मिली है। इस प्रसिद्धि को देखते हुए उन्हें कई बॉलीवुड फिल्में भी ऑफर की गई हैं परंतु उन्होंने अभी तक किसी बॉलीवुड फिल्म में काम नहीं किया है।

अर्जुन बहुत अच्छे एक्टर और डांसर होने के साथ-साथ बहुत अच्छे फोटोग्राफर और पेंटर भी हैं। फोटो लेने के लिए उनके पास एक पर्सनल कैमरा है। फोटोग्राफी और पेंटिंग वह तनाव कम करने के लिए करते हैं। अल्लू अर्जुन चिरंजीवी के बहुत बड़े फैन हैं। इसके अलावा अर्जुन की पसंदीदा फिल्म हम आपके हैं कौन, दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे और जो जीता वही सिकंदर है। अल्लू अर्जुन अपने स्टाइल पर बहुत ध्यान देते हैं और वह अक्सर अलग अलग मूवी के लिए अपनी हेयर स्टाइल और लुक बदलते रहते हैं इसीलिए फैंस ने इन्हें “स्टाइलिश स्टार” का नाम दिया हुआ है।

अल्लू अर्जुन अपने फैंस से बहुत प्यार करते हैं। अल्लू अर्जुन के बहुत बड़े फैन नूर मोहम्मद थे। नूर मोहम्मद को वह पर्सनली जानते भी थे और कई बार वह उनके साथ स्टेज पर भी देखे गए। साल 2019 में नूर मोहम्मद की मृत्यु हो गई थी तब उस कठिन समय में अल्लू अर्जुन नूर मोहम्मद के परिवार से मिलने गए और पैसों से मदद भी की थी। अर्जुन को उनकी मौत का काफी दुख हुआ था जिसकी वजह से उन्होंने अपने फिल्म के ट्रेलर के लॉन्च होने की डेट में आगे बढ़ा दी थी।

अल्लू अर्जुन ने कहा था कि मैं अपने पिता से दुनिया में सबसे ज्यादा प्यार करता हूं। उन्होंने आगे कहा -पापा मैं आपसे प्यार करता हूं आपने मेरे लिए जो कुछ भी किया है उसके लिए शुक्रिया। मेरे पापा ना सिर्फ एक अच्छे पिता और प्रोड्यूसर है बल्कि बहुत अच्छे इंसान भी हैं। जब अल्लू अर्जुन छोटे थे तब भी उनके पापा उन्हें हर चीज के लिए सपोर्ट करते थे उन्होंने कभी भी अल्लू अर्जुन को एक्टिंग में जाने के लिए फोर्स नहीं किया। जब अर्जुन बचपन में एनिमेटर बनना चाहते थे तब भी उनके पापा ने सपोर्ट किया था। इन सभी वजह से अर्जुन हमेशा अपने पापा के बहुत क्लोज रहे हैं और आज 38 साल की उम्र में भी वह पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ के निर्णय अपने पापा से ही पूछ कर लिया करते हैं।

साल 2016 में वह सबसे ज्यादा सर्च किए जाने वाले टॉलीवुड एक्टर रहे। गूगल पर अल्लू अर्जुन का नाम टॉप सर्च सेलिब्रिटी में रहता है। अल्लू अर्जुन नेपोटिज्म पर बोलते हैं कि फिल्मी बैकग्राउंड होने की वजह से मुझे इस फिल्म में एंट्री तो आसानी से मिल गई थी पर 20 सालों तक सरवाइव करना मेरी खुद की ही मेहनत है। अल्लू नेपोटिज्म को फिल्मी दुनिया का एक पाठ ही मानते हैं क्योंकि ऑडियंस ने हीं हमेशा अपने फेवरेट स्टार के परिवार में इंटरेस्ट रखा है। अगर किसी स्टार परिवार से नया एक्टर आता है तो पहले से ही उसे सपोर्ट मिलने लगता है। अल्लू अर्जुन एक स्टार परिवार से हैं और वह आउटसाइडर्स की इंपोर्टेंस जानते हैं और सभी को बराबर की इज्जत देते हैं।

अल्लू अर्जुन ट्रिपल सेक्स नंबर पर बहुत विश्वास करते हैं अब रखते हैं ट्रिपल सेक्स नंबर अर्जुन की गाड़ी और फोन नंबर में भी शामिल है अर्जुन के पास कई लग्जरी कारें हैं साथ ही उनके पास एक वैनिटी वैन भी है, जिसकी कीमत ₹ सात करोड़ से भी ज्यादा है। साल 2007 में अल्लू अर्जुन को “देसमुदुरु” फिल्म में एक अलग लुक में देखा गया। इसके लिए अर्जुन ने बहुत मेहनत की थी। उन्होंने बताया कि इस रोल के लिए उन्होंने 4 महीने तक अपने शरीर पर काम किया। यह एक एक्शन मूवी थी इसके लिए अर्जुन ऐप्स बनाए थे। इसके बाद उन्हें एक “एक्शन हीरो” के तौर पर जाना जाने लगा ।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment